भारत और ब्रिटेन की सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास हुआ शुरू, थार रेगिस्तान में चल रहे गोलिओ से थर्राया रेगिस्तान

राजस्थान के थार रेगिस्तान में भारत-ब्रिटेन सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास 'अजेय वारियर-2017' शुरू हो चूका है. यह युद्धाभ्यास 15 दिसंबर तक चलेंगे जवानों ने अपना दमख़म दिखाते हुए "शूट फ़ॉर किल" मिशन को अंजाम दिया. ऐसे में दुश्मन को निशाना बनाते हुए सेना के जवानों ने थार के रेगिस्तान में युद्ध कौशल पेश किया. जिसके तहत जवानों ने रेगिस्तान में अपने हथियारों से दुश्मन को निशाना बनाते हुए लक्ष्य को हासिल किया. दोनों सेनाओं का युद्धाभ्यास अजेय वॉरियर दुनिया में आतंकियों के ख़ात्मे को लेकर किया जा रहा है.

रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष ओझा ने बताया कि भारतीय सेना तथा ब्रिटिश सेना के बीच चौदह दिवसीय संयुक्त सैन्य अभ्यास का आगाज महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में हुआ उन्होंने बताया  कि इस युद्धाभ्यास में भारतीय सेना की राजपूताना राइफल की 20वीं बटालियन के 120 जवान एवं अधिकारी तथा ब्रिटिश सेना के करीब एक सौ अधिकारी तथा जवान भाग ले रहे है। ओझा ने बताया कि यह अभ्यास दोनों देशों के बीच में तीसरा संयुक्त युद्धाभ्यास होगा। दोनों देशों के बीच में सैन्य सहयोग का पुराना इतिहास रहा है। इस श्रृंखला का प्रथम अभ्यास वर्ष 2013 में कर्नाटक के बेलगाम में एवं दूसरा अभ्यास वर्ष 2015 में ब्रिटेन में हुआ था।

सूत्रों के अनुसार थार के रेगिस्तान में चल रहे युद्धाभ्यास अजेय वारियर से पूरा थार रेगिस्तान थर्रा गया मिशन को अंजाम दिया. ऐसे में दुश्मन को निशाना बनाते हुए सेना के जवानों ने थार के रेगिस्तान में युद्ध कौशल पेश किया.