दिल्ली की चोरनिओ का हुआ पर्दाफाश, नौकरानी बनकर करती थी चोरी

नई दिल्ली: दिल्ली के पुलिस ने एक ऐसे  चोरनियों के गैंग का पर्दाफाश किया है. जो की पिछले कुछ समय से लोगों के घरों में नौकरानी बनकर चोरी की इन वारदातों को अंजाम दे रही थीं. दिल्ली में लंबे समय से चोरनियों का एक गिरोह सक्रिय था, पुलिस ने अभी गिरोह की दो चोरनियों को गिरफ्तार किया है. उनके पास से पुलिस ने 17 लाख रुपये की डायमंड और सोने की जूलरी भी बरामद की है. ये महिलाएं घरों में अच्छी सफाई और डस्टिंग का लोभ देकर महिलाओं को अपने झांसे में ले लेती हैं और मौका मिलते ही उस घर से जूलरी और कैश चोरी करके फरार हो जातीं. जहां एक तरफ यह महिला अपने गैंग के किसी भी सदस्य का पुलिस सत्यापन नहीं होने देतीं, वहीं लोगों के इस ढीले रवैये का भी खासा फायदा उठाकर उन्हीं को लाखों का चूना लगाकर लगातार वारदात को अंजाम देती रहती हैं.

सूत्रों का कहना है  इसके अलावा चोरनियों के पास से काफी सारा कैश भी मिला है. पुलिस के मुताबिक, ये चोरनियां गैंग बनाकर एकदूसरे को घरों में नौकरानी का काम दिलवातीं, फिर मिलकर उस घर में चोरी की वारदात को अंजाम देतीं. साउथ ईस्ट दिल्ली के सरिता विहार थाने की पुलिस ने इस गिरोह का भंडाफोड़ किया है.

इसके अलावा पुलिस ने गिरफ्तार दोनों चोरनियों में एक चोरनी को जेल भेज दिया गया है, जबकि दूसरी चोरनी अभी पुलिस कस्टडी में है. आपको बता दे  इस शातिर महिला की हकीकत. यह शातिर महिला अपने गैंग के साथ मिलकर दिल्ली के पॉश इलाकों में जाकर काफी कम वेतन पर नौकरानी का काम करतीं और कुछ ही दिन में घर का सारा किमती सामान लेकर फरार  हो जाती थीं. पूछताछ में पता चला कि यह शातिर महिला बिहार के भागलपुर की रहने वाली है. उसने बताया कि उसके गांव की कई महिलाएं इसी तरह दिल्ली में घरेलू नौकरानी का काम करती हैं और अलग-अलग ग्रुप में चोरी की वारदातों को अंजाम देकर वापस अपने गांव भाग जाती हैं.

फिलहाल पुलिस ने इस महिला की एक साथी को तो पकड़ ही लिया है, साथ ही अन्य चोरनियों की तलाश के लिए छापेमारी भी शुरू कर दी है.