गुजरात चुनाम में पाकिस्तान का बयान कहा 'हमें न घसीटे', पीएम अपने दम पर जीतो

नई दिल्ली: गुजरात चुनाव अब पाकिस्तान के मुद्दे पर अटक गया है. कांग्रेस के निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर के घर पाकिस्तान अधिकारियों और कांग्रेस नेताओं की बैठक के बीजेपी के आरोप पर पाकिस्तान का बयान आया है. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि भारत अपने चुनावी लड़ाई में बेवजह पाकिस्तान को घसीट रहा है.

दरअसल पीएम मोदी पिछले कई दिनों से गुजरात की चुनावी  रैलियो  में पाकिस्तान का नाम लेकर कांग्रेस पर निशाना साध रहे हैं.  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक रैली में कहा था, ''कल टीवी पर, अखबार में एक जबरदस्त चर्चा थी और चर्चा इस बात की थी कि मणिशंकर के घर पर पाकिस्तान के उच्चायुक्त, पाकिस्तान के एक पूर्व विदेश मंत्री, भारत के भूतपूर्व उपराष्ट्रपति और भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की मणिशंकर के घर पर मीटिंग हुई. ये मीटिंग तीन घंटे तक चली 

 दूसरे दिन मणिशंकर ने मोदी को नीच कहा. ये एक गंभीर मामला है कि पाकिस्तान के लोगों के साथ गुप्त मीटिंग करने का कारण क्या है ?'

इस पर प्रधानमंत्री ने आगे कहा, ''पाकिस्तान सेना के भूतपूर्व डायरेक्टर जनरल अशरद रफीक कहते हैं कि गुजरात में अहमद पटेल को मुख्यमंत्री बनाने के लिए सपोर्ट करना चाहिए.'' और इससे पहले पीएम मोदी ने मणिशंकर अय्यर पर आरोप लगाते हुए एक रैली में कहा था कि उनके प्रधानमंत्री बनने के बाद मणिशंकर अय्यर पाकिस्तान गए थे और सवाल उठाया कि क्या वो पाकिस्तान में उनकी सुपारी देने गए थे? 

इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा था कि पाकिस्तान जाकर मणिशंकर ने उन्हें रास्ते से हटाने की बात कही थी.

हालांकि चुनाव के दौरान कांग्रेसी नेता मणिशंकर अय्यर द्वारा दिए गए बयान से उन्होंने किनारा कर लिया।