दिल्ली में सड़क दुर्घटना, पीड़ित के इलाज का खर्च उठाएगी सरकार!

दिल्ली  में जल्द ही ऐसी नियम आने वाली है,जिसमें सड़क पर कोई एक्सीडेंट हुआ, तो पीड़ित के किसी भी प्राइवेट अस्पताल में भर्ती होने पर सारा खर्चा दिल्ली सरकार उठाएगी। दिल्ली कैबिनेट ने सड़क दुर्घटनाओं के शिकार हुए लोगों को शहर के सभी अस्पतालों में इलाज संबंधी नि:शुल्क उपचार योजना को मंजूरी दे दी। आम आदमी पार्टी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मीडिया को यहां बताया, "कैबिनेट ने मंगलवार को दुर्घटना पीड़ितों के उपचार की योजना को मंजूरी दे दी, जो उप राज्यपाल (अनिल बैजल) की मंजूरी के बाद लागू होगी।"

 

सरकार ने सबके लिए सोचते हुवे ये निति की जानकारी दिया है। दुर्घटनाओं में पड़े लोगो के परिवार और पीड़ित मुसीबत में फस जाते है। जो शहर की सड़क पर किसी दुर्घटना में घायल हो जाता है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में हर साल लगभग 8,000 दुर्घटनाएं होती हैं, जिसमें 20,000 लोग घायल होते हैं। इसमें औसतन 1,600 की मौत हो जाती है।

 

दुर्भाग्यवश, बहुत सारे लोग समय से चिकित्सा सुविधा नहीं मिलने के कारण मर जाते हैं। इस योजना से लोगों को बचाने में मदद मिलेगी।दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि दिल्ली की सीमा में अगर किसी की भी सड़क पर कोई दुर्घटना होती है, चोट लगती है, कोई आग से जलता है या किसी पर तेजाब से हमला होता है, तो फिर वह शख्स देश के किसी भी हिस्से का निवासी हो, उसके इलाज का पूरा खर्च दिल्ली सरकार उठाएगी