राजस्थान में होते थे LPG सिलेंडर की अवैध रिफिलिंग, पुलिस ने किया खुलासा

अजमेर: राजस्थान के अजमेर से LPG सिलेंडर की अवैध रिफिलिंग का मामला सामने आया है, बता दे यहां पर अवैध तरीके से घरेलू गैस सिलेंडर की रिफिलिंग होती थी, पीसांगन उपखंड क्षेत्र के मांगलियावास के पास एक पहाड़ी के पीछे अवैध तरीके से घरेलू गैस सिलेंडर की रिफिलिंग की जाती थी।

आपको बता दे पुलिस ने इस मामले में रंगे हाथ 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर पूछताछ की जा रही है, मांगलियावास के SHO अरविंद सिंह ने बताया कि पुलिस को मौके से 429 भरे हुए और 28 खाली गैस सिलेंडर, एक मारुति वैन और रिफिलिंग के काम आने वाले सामान मिले हैं. इसके अलावा सिलेंडर पर लगने वाला कंपनी का सील भी कब्जे में लिया गया है।

जांच में पता चला है कि सिलेंडर की डिलीवरी करने ले जाने के दौरान ट्रक चालक सिलेंडर का सील तोड़कर उसमें से गैस निकालकर खाली सिलेंडर में भरते थे, इसके बाद सिलेंडर को फिर से सील कर उसे डिलीवर कर दिया जाता था, बता दें कि ट्रक चालक प्लांट कर्मचारियों से 2 रुपए में प्लास्टिक सील खरीदते थे, गैस सिलेंडर से अवैध रिफिलिंग के कारोबार का भांडाफोड़ होने के बाद मौके पर पहुंचे लोगों ने बताया कि बुक कराने के कई दिनों बाद सिलेंडर मिलता था, सिलेंडर का वजन भी काफी हल्का होता था. लोगों ने बताया कि शिकायत करने के बावजूद भी अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं करते।

अरविंद सिंह के मुताबिक केसरपुरा गांव के पीछे स्थित पहाड़ियों में कई दिनों से गैस सिलेंडर का सील तोड़कर खाली सिलेंडर में भरने का काम किया जा रहा था, सूचना मिलने पर पुलिस ने छापेमारी की और मौके से ट्रक चालक सहित 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया,  इसके बाद उन्होंने रसद विभाग व तबीजी स्थित गैस प्लांट के अधिकारियों को सूचना दी. गैस प्लांट के अधिकारी ओमप्रकाश द्वारा जांच करने पर पता चला कि सील बंद गैस सिलेंडरों में 4 किलो तक गैस कम थी।