डोपिंग के लिए सस्पेंड हुए यूसुफ पठान, बैन के बावजूद खेल सकेंगे IPL

टीम इंडिया के ऑलराउंडर युसूफ पठान डोप टेस्ट में पकड़े गये हैं जिसके कारण उनपर पांच महीने का पूर्वप्रभावी निलंबन लगाया गया. लेकिन बड़ी बात है कि युसूफ पर लगा बैन पांच दिन के बाद ही यानी 14 जनवरी को समाप्त हो जायेगा. इसतरह बीसीसीआई ने अपने ऑलराउंडर खिलाड़ी के कैरियर को तबाह होने से बचा लिया है.भारतीय ऑलराउंडर यूसुफ पठान को बीसीसीआई ने डोप टेस्ट में फेल होने पर पांच महीने के लिए निलंबित कर दिया है. बीसीसीआई ने मंगलवार को जारी अपने बयान में कहा है कि पठान को प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन के लिए निलंबित किया गया है. यह पदार्थ आमतौर पर कफ सिरप (खांसी की दवा) में पाया जाता है.

जानकारी के मुताबिक,पठान ने डोपिंग रोधी नियम उल्लंघन की बात स्वीकार की और कहा कि उन्हें जो दवाई लिखी गई थी, उसके अलावा उन्हें कोई और दवाई दी गई, जिसमें 'टब्र्यूटेलिन' की मात्रा शामिल थी. पठान ने हालांकि कहा कि उन्होंने जानबूझकर इस दवा का सेवन नहीं किया है और इसके सेवन का मकसद सिर्फ गले में जारी संक्रमण से छुटकारा पाना था, न कि अपने प्रदर्शन को सुधारना था. बीसीसीआई ने पठान के स्पष्टीकरण को माना और इस बात को समझा कि अपर रेस्पाइरेटरी ट्रेक्ट इन्फेक्शन (यूआरटीआई) के इलाज के लिए उन्हें गलती से 'टब्र्यूटेलिन' दिया गया.

खबरों के मुताबिक, दरअसल युसूफ को बीसीसीआई ने बड़ी राहत देते हुए केवल पांच महीने का बैन लगाया और इस वजह से उनके आईपीएल में खेलने का रास्ता साफ हो गया है. यहां तक ही उसके बाद टीम इंडिया के लिए भी वो खेल सकेंगे. युसूफ ने बीसीसीआई के लगाये गये बैन को जब गहरायी से पढ़ा तो उनकी आंखों में आंसू आ गये. युसूफ ने इसके लिए बीसीसीआई को पत्र लिखकर थैंक्‍स भी कहा है. इधर बीसीसीआई ने स्वीकार किया कि उन्होंने अनजाने में प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन किया है. उन्होंने एक बयान में कहा, भारत और बडौदा के लिये खेलना मेरे लिये प्रेरणा और फख्र की बात रहा है. मैं ऐसा कोई काम नहीं करुंगा कि अपनी मातृभूमि या बडौदा का नाम खराब हो. मुझे भविष्य में और सतर्कता बरतनी होगी और बीसीसीआई की डोपिंग निरोधक हेल्पलाइन से दवाइयों के बारे में सलाह लेनी होगी .

आपको बता दे, हालांकि युसूफ पठान का निलंबन खत्म होने के बाद अप्रैल में शुरू हो रहे आईपीएल 11 में उनके खेलने का रास्ता साफ हो सकता है.इस बात को मानते हुए बीसीसीआई ने पठान पर पांच माह का निलंबन लगाया है, जो 15 अगस्त 2017 से लागू हुआ और यह निलंबन 14 जनवरी, 2018 को समाप्त हो जाएगा. इस बीच घरेलू सत्र में खेले गए उनके मैचों के परिणामों को भी रद्द किया जा सकता है.