दिल्ली: चिड़ियाघर का चोर सफेद बाघ देख रहे पर्यटकों को बनाता था निशाना, गिरफ्तार

 दिल्ली में बहुत सारे पर्यट चिड़ियाघर देखने आते है। दिल्ली में रहते हैं या घूमने आए हैं और चिड़ियाघर देखने जा रहे हैं तो इस शातिर चोर से सावधान! यह अजीब चोर सिर्फ चिड़ियाघर के अंदर ही चोरी करता था. लेकिन अब यह चोर दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में है. पुलिस ने बड़ी चालाकी से इस शातिर चोर को गिरफ्तार किया, हालांकि उसका एक साथी भागने में सफल रहा. पुलिस ने बताया कि चोर का नाम जीतन है और वह सिर्फ चिड़ियाघर के अंदर ही चोरी करता था. पुलिस ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से उन्हें चिड़ियाघर के अंदर घूमने आए पर्यटकों का मोबाइल चोरी होने की शिकायतें लगातार मिल रही थीं.पुलिस ने बताया कि यह चोर चिड़ियाघर के अंदर भी हर जगह नहीं, बल्कि सिर्फ सफेद बाघ और तेंदुए के पिंजरे के पास ही चोरी की वारदातों को अंजाम देता था. पुलिस ने यह भी बताया कि इस चोर के निशाने पर सिर्फ वही लोग होते थे, जिनके पास महंगे मोबाइल फोन होते थे.

आपको बता दे, पुलिस ने पता किया तो पता चला कि एक जनवरी को चिड़ियाघर में करीब 50 हजार लोग घूमने गए थे. इसी भीड़ का फायदा उठाकर चोर लोगों के मोबाइल पर हाथ साफ कर देते थे. डीसीपी (साउथ-ईस्ट) चिन्मय बिश्वाल ने बताया कि चोरी की बढ़ती वारदातों के बाद इस गैंग को पकड़ने के लिए एक टीम बनाई गई. इस शातिर चोर को पकड़ने के लिए पुलिस ने चिड़ियाघर में सादी वर्दी में पुलिस तैनात की, खासतौर पर सफेद बाघ और तेंदुए के पिंजरे के पास. 6 जनवरी को तेंदूए के पिंजरे के पास अचानक एक शख्स मोबाइल फोन चोरी होने के बाद शोर मचाने लगा. तभी वहां मौजूद पुलिसकर्मी ने एक युवक को भीड़ से निकलकर भागते देखा.

जानकारी के मुताबिक, पुलिस को नए साल यानी 1 जनवरी वाले दिन चिड़ियाघर के अंदर घूमने आए 6 पर्यटकों के मोबाइल चोरी होने की शिकायत मिली. पुलिस को मिली शिकायतों में एक बात कॉमन नजर आई और वह यह था कि उनके मोबाइल उसी समय चोरी हुए जब तेंदूए के पिंजरे के पास थे या सफेद बाघ के पिंजरे के पास.पुलिसकर्मी ने तुरंत दौड़ा कर चोर को पकड़ लिया. पूछताछ में शातिर चोर जीतन ने बताया कि उसके साथ उसका एक साथी शंकर भी था, जो कि भाग निकला. पुलिस फरार चोर की तलाश में जुटी है.