कांस्टेबल ने की थी एक नहीं बल्कि सात शादियां, शिकायत दर्ज होने बाद हुआ सस्पेंड

विवाह साथ जनम का बंधन हैं इसे निभाए रखना हर इंसान का ज़िम्मेदारी और अपने परिवार को हमेशा खुश रखना भी जरुरी होता है। लेकिन महाराष्ट्र के ठाने के पुलिस थाने में तैनात एक कांस्टेबल को सात शादियां करने के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया है. पुलिस कांस्टेबल की दूसरी पत्नी ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी और अपनी शिकायत दर्ज कराई. पुलिस कांस्टेबल की दूसरी पत्नी का कहना है कि उनकी शादी वर्ष 1992 में हुई थी. पत्नी का आरोप है कि कांस्टेबल सूर्यकांत कदम ने धोखे में रखकर उससे शादी रचाई. शादी से पहले उसे कांस्टेबल की बाकि पत्नियों की जानकारी ही नहीं थी.

जानकारी के मुताबिक, मामला सब के सामने आने के बाद पुलिस अधिकारियों ने तुरंत कार्रवाई करते हुए कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया है. एक पुलिस अधिकारी ने मीडिया को बताया कि महिला के बयान को आधार मनाकर जांच शुरू कर दी गई है. फिलहाल थाने में किसी एफआईआर नहीं दर्ज की गई है. पुलिस अधिकारी का कहना है कि छानबीन के दौरान अगर कांस्टेबल दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया जाएगा.

खबरों के मुताबिक, महिला का कहना है कि उसके पति ने शादियों की बात छिपा कर अलग-अलग वर्ष में गोपनीय तरीकों से 5 और शादियां की हैं. महिला का कहना है कि वर्ष 1986 में कांस्टेबल ने पहली शादी की थी. उसके बाद कांस्टेबल ने 1992 में उससे शादी की और उससे शादी करने के बाद 5 और महिलाओं को शादी के जाल में फंसाया. महिला ने दावा किया है कि कांस्टेबल ने 1993,1995,1998 ,2007 और 2014 शादी की है.जिस महिला ने कांस्टेबल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है वह उसकी दूसरी पत्नी होने का दावा कर रही है. महिला ठाणे जिले के ही अंबरनाथ शहर में एक अस्पताल में नर्स का काम करती है. रिपोर्टस के मुताबिक कांस्टेबल की सात पत्नियों में से दो की मौत हो चुकी है. किसी को शक को ना हो इसलिए उसने हर शादी अलग-अलग जिले में रचाई थी.पुलिस के मुताबिक, कांस्टेबल दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया जाएगा.