कमला मिल्स अग्निकांड: हैदराबाद एयरपोर्ट से फरार हुआ मोजो पब का मालिक, पुलिस पकड़ने में नाकाम

29 दिसंबर को मुंबई के कमला मिल्स में हुए अग्निकांड में मुख्य आरोपी मोजो पब का मालिक युग तुली अब तक पुलिस के हाथ नहीं आया है. वह पुलिस को लगातार गुमराह कर रहा है. ज़ी मीडिया को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार युग सोमवार को पत्नी प्रितिना के साथ जीप से हैदराबाद पहुंचा. यहां से वह हैदराबाद के पॉश इलाकेजुबिली हिल्सस्थित अपने ननिहाल गया. खबर मिलने पर जब पुलिस ने छापेमीरी की तो वहां सिर्फ उसकी जीप मिली. मुंबई पुलिसजुबिली हिल्सपहुंची तो पता चला कि वह आधे घंटे पहले ही वहां से निकल गया. इसके बाद हैदराबाद पुलिस के साथ मिलकर मुंबई पुलिस ने छानबीन शुरू की. कुछ देर बाद युग के हैदराबाद एयरपोर्ट पर दिखाई देने की जानकारी मिली.

आपको बता देमुंबई पुलिस 'जुबिली हिल्स' पहुंची तो पता चला कि वह आधे घंटे पहले ही वहां से निकल गया. इसके बाद हैदराबाद पुलिस के साथ मिलकर मुंबई पुलिस ने छानबीन शुरू की. कुछ देर बाद युग के हैदराबाद एयरपोर्ट पर दिखाई देने की जानकारी मिली. पुलिस के मुताबिक एयरपोर्ट पहुंचने के बाद युग ने अचानक फ्लाइट पकड़ने का प्लान बदल दिया और अपनी पत्नी के साथ किसी प्राइवेट व्हीकल में एयरपोर्ट से भी फरार हो गया. अब पुलिस युग तुली की तलाश में जुटी हुई है. आपको बता दें कि मुंबई पुलिस ने कमला मिल्स अग्निकांड में फायर डिपार्टमेंट की रिपोर्ट आने के बाद मोजो पब के मालिक युग पाठक और युग तुली पर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है.

आपको बताते चले , गुरुवार देर रात मुंबई के कमला मिल्‍‍ कंपाउंड में लगी भीषण आग में कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई, जबकि करीब 19 लोग घायल हुए हैं. पुलिस के मुताबिक, यह हादसा गुरुवार देर रात करीब 12.30 बजे कमला मिल कंपाउंड स्थित मोजो बिस्ट्रो में हुआ, जिसमें अचानक आग लग गई. यह इलाका मुंबई का महत्वपूर्ण व्यावसायिक क्षेत्र है. जिस वक्त यह हादसा हुआ रेस्त्रां में करीब 150 लोग डिनर करने के लिए मौजूद थे. आग लगने के बाद मची भगदड़ में कुछ खुशनसीब लोग तो बाल-बाल बच गए लेकिन 14 लोगों को आग ने अपना शिकार बना लिया. मारे गए लोगों के पोस्टमार्टम के मुताबिक सभी की जान दम घुटने से गई है.

खबरों के मुताबिक, युग तुली के जमानत अर्जी पर 11 जनवरी को अदालत में सुनवाई होनी है. तब तक अदालत ने उसकी गिरफ्तारी से कोई राहत नहीं दी है, हालांकि पुलिस अब कर उसे गिरफ्तार करने में नाकाम है. पब का दूसरे मालिक युग पाठक 12 जनवरी तक पुलिस हिरासत में है.