"विंटर ओलंपिक" में साउथ कोरिया में नॉर्थ कोरियाई मशहूर चियरलीडर्स के चर्चे

नॉर्थ कोरिया, फरवरी में होने वाले "विंटर ओलंपिक" में अपने करीब 100 नागरिकों को साउथ कोरिया भेजने की तैयारी में है. "विंटर ओलंपिक" में प्रतिनिधित्व की घोषणा के बाद अब अपने मशहूर महिला चियरलीडर को साउथ में चौथे प्रदर्शन के लिए तैयार कर लिया है. इसके बाद अगले महीने एक प्रतिनिधिमंडल को दक्षिण में सिर्फ 80 किलोमीटर (50 मील) भेज दिया जाएगा. आपको बता दें कि नॉर्थ कोरिया की ये चियरलीडर बहुत खूबसूरत हैं. साउथ में इन चियरलीडर खूबसूरत आर्मी करार दे दिया है. नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग की पत्नी भी ऐसे ही ग्रुप का हिस्सा थी. री सोल-जू ने 2005 में इनशॉयन में होने वाले एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में भाग लिया था. अपने अच्छे दिखने और तीव्र चाल के साथ, उत्तर कोरिया की ये महिला चियरलीडर्स सरकार के खतरनाक परमाणु महत्वाकांक्षाओं के एकदम विपरीत हैं.

जानकारी के मुताबिक, चैन-2 जो उत्तरी कोरिया अध्ययन के लिए विश्व संस्थान चलाते हैं, ने कहा कि चियरलीडर्स को कठिन मापदंडों के आधार पर शासन द्वारा चुनिंदा को ही चुना गया है. एक एएफपी  ने बताया कि उन्हें 163 सेंटीमीटर (5ft 3ins) से अधिक लंबा होना चाहिए और अच्छे परिवारों से आना चाहिए". एक इंस्ट्र्युमेंट बजाते हों और अन्य ज्यादातर किम इल-सुंग विश्वविद्यालय के छात्र हैं.उत्तर कोरिया अपने पड़ोस में भेजे जाने वाले किसी भी प्रतिनिधिमंडलों को बहुत सतर्कता के साथ प्योंगयांग द्वारा चुनता है, और उनकी गतिविधियों को कसकर नियंत्रित किया जाता है. रिपोर्टों के मुताबिक शीतकालीन ओलंपिक समूह को भी सोको में क्रूज जहाज पर लगाया जा सकता है, जिससे उन्हें मॉनीटर करना आसान हो जाएगा.

खबरों के मुताबिक, नियम ओलंपिक की जगह पर लागू नहीं होता. क्योंकि वहां आई ओ सी (IOC) प्रोटोकोल लागू होता है. जब उत्तर कोरिया में 2014 में एशियाई खेलों के दौरान इन्हें दक्षिण-पूर्व फुटबॉल खेल में रेलिंग के दौरान उत्तरी कोरियाई झंडा दिखाया गया था तो इसे अधिकारियों ने हटा दिया था.आपको बता दें कि साउथ कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा कानूनों के तहत उत्तर कोरियाई ध्वज को प्रदर्शित करना और अपने राष्ट्रगान गाना राजद्रोह का प्रतीक माना जाता है, इसलिए पिछले इंटर कोरियन मैचों में एकीकरण झंडा का इस्तेमाल किया जाता रहा है.