अमेरिका में भारतीय मूल के एक व्यक्ति को मिली मृत्युदंड

नई दिल्ली: अमेरिका में एक बच्ची और उसकी दादी की हत्या करने के दोषी भारतीय मूल के एक व्यक्ति के मृत्युदंड की तारीख अगले महीने निर्धारित की गई है. बता दे रघुनंदन यांदामुरी (32) को 2014 में 61 वर्षीय भारतीय महिला और उसकी 10 महीने की पोती का अपहरण कर हत्या करने के जुर्म में मृत्युदंड दिया गया था।

आपको बता दे स्थानीय सुधार गृह के अधिकारियों ने यांदामुरी के मृत्युदंड की तारीख 23 फरवरी तय की है. हालांकि, पेनसिलवानिया के गवर्नर टॉम वुल्फ की ओर से 2015 में मृत्युदंड पर रोक के कारण सजा पर पाबंदी लग सकती है, यांदामुरी मृत्युदंड का सामना करने वाला पहला भारतीय-अमेरिकी है. संघीय अधिकारियों ने आरोप लगाया कि फिरौती के लिए रची गयी साजिश के तहत हत्याएं की गई. आंध्रप्रदेश के निवासी यांदामुरी एच-1 बी वीजा पर अमेरिका आया था. उसने इलेक्ट्रिकल और कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में एडवांस डिग्री ले रखी है. उसकी दोषसिद्धि के बाद उसे बताया गया कि उसपर मृत्युदंड लगाया गया है. इसके बाद आरोपी ने बाद में अपनी सजा के खिलाफ अपील की लेकिन अप्रैल में अपील ठुकरा दी गई,

बता दे स्थानीय टाइम्स हेराल्ड ने बुधवार को बताया कि जानलेवा इंजेक्शन के जरिए उसकी मौत की तारीख 23 फरवरी निर्धारित की गई है. लेकिन गवर्नर टॉम वुल्फ की ओर से मृत्युदंड पर प्रतिबंध के कारण सजा पर रोक लग सकती है।