पंचकुला हिंसा: गुरमीत राम रहीम का खुलेंगे नए राज, एक और आरोपी गिरफ्तार

आपको पता ही होगा की,गुरमीत राम रहीम और हनीप्रीत देशद्रोह के रूप में जेल में है. पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी की पहचान पूरन सिंह के रूप में की है. पुलिस ने बताया कि पूरन सिंह डेरा सच्चा सौदा की 45 सदस्यीय प्रबंदन समिति का सदस्य था. पूरन सिंह 20 साल से डेरा से जुड़ा हुआ था. उसे फतेहाबाद से गिरफ्तार किया गया.पूरन सिंह पंचकूला पुलिस की मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल था और उसके खिलाफ देशद्रोह और आपराधिक षडयंत्र रचने का मामला दर्ज है. पुलिस का मानना है कि पूरन सिंह से पूछताछ के दौरान पंचकुला हिंसा की साचिश रचने के संबंध में नए खुलासे हो सकते हैं.

खबरों के मुताबिक, पुलिस का मानना है कि 25 अगस्त को हिंसा फैलाने की साजिश रचने के लिए हनीप्रीत ने डेरा पदाधिकारियों के साथ 17 अगस्त को एक मीटिंग की थी, जिसमें पूरन सिंह भी मौजूद था. इस बीच हरियाणा पुलिस ने राम रहीम के समधी और पूर्व कांग्रेस विधायक हरमिंदर सिंह जस्सी से भी पंचकुला हिंसा के संबंध में पूछताछ की, हालांकि कुछ भी उगलवा नहीं पाई.गौरतलब है कि पंचकुला हिंसा मामले में गुरमीत राम रहीम और उसकी 'बेबी' हनीप्रीत पर देशद्रोह का केस दर्ज है. 25 अगस्त को पंचकुला कोर्ट द्वारा राम रहीम को अपनी दो शिष्याओं के साथ रेप का दोषी करार दिए जाने और सजा सुनाए जाने के बाद उसके समर्थकों ने जमकर हिंसा की थी.

जानकारी के मुताबिक, इस बीच पंचकुला हिंसा की जांच कर रही हरियाणा SIT की टीम जेल में बंद राम रहीम और हनीप्रीत से लगातार पूछताछ कर रही है. दोनों पर देशद्रोह का केस दर्ज है. राम रहीम पर दो मामलों में हत्या का केस भी दर्ज है. साथ ही उस पर डेरे के सैकड़ों समर्थकों को नपूंसक बनाने का केस भी चल रहा है.पुलिस का मानना है कि 25 अगस्त को हिंसा फैलाने की साजिश रचने के लिए हनीप्रीत ने डेरा पदाधिकारियों के साथ 17 अगस्त को एक मीटिंग की थी, जिसमें पूरन सिंह भी मौजूद था. इस बीच हरियाणा पुलिस ने राम रहीम के समधी और पूर्व कांग्रेस विधायक हरमिंदर सिंह जस्सी से भी पंचकुला हिंसा के संबंध में पूछताछ की, हालांकि कुछ भी उगलवा नहीं पाई.

आपको बताते चले, कि 25 अगस्त को राम रहीम के दोषी करार होने के बाद उसके समर्थकों ने पंचकुला में बहुत तोड़फोड़ की थी. इतना ही नहीं डेरा समर्थकों ने कुछ गाड़ियों को आग के हवाले भी कर दिया था. इस हिंसा में 38 लोग मारे गए थे और करीब 250 लोग घायल हुए थे. पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तार आरोपी से कुछ और राज निकाल ने की बात सामने आ रही है.