मार्क जकरबर्ग का ऐलान, FB पर कम समय बिताएंगे लोग न्यूज फीड में बड़ा बदलाव

फेसबुक एक दूसरे से जुड़ने के लिए बनाया गया है.ज़्यादा से ज़्यादा लोग फेसबुक के साथ वक़्त बिताना पसंद करते है. दुनिया की सबसे बड़ी सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक अब अपने बेसिक पर लौटने की तैयारी कर रही है. फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने ऐलान किया है कि अब फेसबुक के न्यूज फीड पर आपके दोस्तों और आपके अपनों से जुड़े कॉन्टेंट ज्यादा मिलेंगे. जकरबर्ग ने कहा है कि हाल ही में उन्हें फेसबुक यूजर्स से फीडबैक मिले हैं कि उन्हें पब्लिक कॉन्टेंट, बिजनेस से जुड़े पोस्ट, ब्रांड और मीडिया उनके पर्सनल मोमेंट्स में बाधा डाल रहे हैं. 

जानकारी के मुताबिक, मार्क जकरबर्ग ने कहा है कि पिछले कुछ सालों में फेसबुक पर वीडियो और पब्लिक कॉन्टेंट की बाढ़ आ गई है. चूंकि अब फेसबुक पर फ्रेंड्स और फैमिली पोस्ट से ज्यादा पब्लिक पोस्ट हो गए हैं, न्यूज फीड का बैलेंस फेसबुक द्वारा किए गए महत्वपूर्ण कामों से शिफ्ट हो गया है जिसके जरिए लोग एक दूसरे से जुड़ते हैं. उन्होंने कहा, ‘हम जिम्मेदारी के साथ लोगों को इस बात के लिए निश्चिंत करना चाहते हैं कि हमारी सर्विस न सिर्फ मजे के यूज के लिए हैं, बल्कि यह लोगों के बेहतर भी है’

रिपोर्ट के मुताबिक, मार्क जकरबर्ग का कहना है, इस साल इन बदलाव के साथ उन्हें उम्मीद है कि लोग फेसबुक पर कम टाइम बिताएंगे. उन्होंने कहा है, ‘इस बदलाव के साथ ही मैं उम्मीद करता हूं कि लोग फेसबुक पर अभी जितना समय बिता रहे हैं उसमें कमी आएगी’. हालांकि इसके आगे उन्होंने यह भी कहा है कि उन्हें यह भी उम्मीद है कि जो टाइम अब आप फेसबुक पर बिताएंगे वो महत्वपूर्ण होंगे और अगर हम सही करते हैं तो उम्मीद है कि यूजर्स के लिए अच्छा है और लॉन्ग टर्म बिजनेस के लिए भी. फेसबुक के मुताबिक अपडेट के बाद भी यूजर्स को पेज के पोस्ट मिलेंगे जिन्हें उन्होंने फौलो किया है, पोस्ट को न्यूज फीड में ऊपर पाने के लिए See first फीचर का इस्तेमाल किया जा सकता है.

खबरों के मुताबिक, कंपनी ने कहा है कि ऐसा नहीं है कि पेज के कॉन्टेंट दिखने बंद हो जाएंगे. हाल ही में कंपनी पेज के कॉन्टेंट को एक खास Explore टैब में देने की टेस्टिंग कर रही थी, लेकिन यइस अपडेट में ऐसा कुछ नहीं किया जाएगा. इतना जरूर है कि अब न्यूज फीड पर पहले से कम पेज के कॉन्टेंट दिखेंगे. आपको बताते चले वैसे पेज पोस्ट जो लोगों कनवर्सेशन जेनेरेट करते हैं वो न्यूज फीड में पहले दिखेंगे. उदाहरण के तौर पर लाइव वीडियो अमूमन दर्शकों में बातचीत बढ़ाता है. कंपनी के मुताबिक फेसबुक लाइव वीडियो आम वीडियो के मुकाबले छह गुना ज्यादा इंटरऐक्शन देता है.