रोटी जली तो पति ने तीन तलाक का फरमान सुनाकर घर से निकाल दिया ,सिगरेट से शरीर को भी दागा

महोबा: देश में तीन तलाक के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. ताजा मामला यूपी के महोबा जिले से सामने आया है, जहां खरेला थाना क्षेत्र के एक मुस्लिम युवक ने अपनी पत्नी को रोटी जलाने की मामूली बात पर तीन तलाक का फरमान सुनाकर घर से निकाल दिया.

भाषा के अनुसार, एसपी बंशराज यादव ने बताया है कि पहरेथा गांव की 24 वर्षीय मुस्लिम युवती ने उनके पास आकर पति के खिलाफ शिकायत की है. करहरा गांव की रहने वाली पीड़िता रजिया का निकाह पहरेथा गांव के निहाल खां के साथ 4 जुलाई 2017 को हुआ था. पति निहाल बात-बात पर गुस्सा हो जाता था. लेकिन इस बार रोटी जल जाने की वजह से निहाल ने तीन तलाक दे दिया. यही नहीं उसे मुझे घर से भी निकाल दिया है.

इस मामले में घरेलू हिंसा कानून के तहत मुकदमा दर्ज किए जाने का आदेश थाने को दिया गया है. उन्होंने बताया कि शिकायती पत्र के अनुसार करहरा गांव की रजिया का निकाह पहरेथा गांव के निहाल खां के साथ 4 जुलाई 2017 को हुआ था

रजिया ने आरोप लगाया कि पति के तलाक देने और घर से निकाले जाने की शिकायत लेकर वह पहले थाने गई थी, लेकिन पुलिस ने उसे डांटकर भगा दिया था. इसके बाद वह अपर पुलिस अधीक्षक से मिली.

उसने यह भी आरोप लगाया कि तलाक देने से तीन दिन पहले उसके पति ने जलती सिगरेट से उसके शरीर के कई हिस्सों को जलाया भी था.